ईरान की इस्लामी क्रांति का उल्लेख

  20वीं शताब्दी विशेषकर उसके अंतिम पचास वर्षों में जो सामाजिक और राजनीतिक परिवर्तन हुए वे इस बात के सूचक हैं कि उस काल में कुछ देशों में विभिन्न क्रांतियां व  सामाजिक परिवर्तन हुए जो सरकारों के बदलने का कारण बने। अलबत्ता ईरान की इस्लामी क्रांति से पहले इन समस्त परिवर्तनों में समान बात यह थी कि एक क्रांति घटित होकर विश्व की एक शक्ति ...

इस क्रान्ति को ईश्वर का समर्थन हासिल है

इस क्रान्ति को ईश्वर का समर्थन हासिल है
ईरान में इमाम ख़ुमैनी रहमतुल्लाह अलैह के नेतृत्व में इस्लामी क्रान्ति की सफलता और मूल इस्लामी शिक्षाओं के आधार पर सरकार के गठन ने राजनीति की दुनिया में नए अध्याय को जोड़ा। विभिन्न क्रान्तियों व सरकारों के अस्तित्व का औचित्य पेश करने वाले विचारों में इस्लामी क्रान्ति एक अद्वितीय घटना थी। यह ऐसी घटना थी जो राजनेताओं के पारंपरिक ...

ईरानी जनता ने चखा स्वतंत्रता का स्वाद

ईरानी जनता ने चखा स्वतंत्रता का स्वाद
दुनिया के सभी इंसान अपनी प्रवृत्ति के आधार पर स्वतंत्रता में रुचि रखते हैं किंतु सदैव कुछ लोग और सरकारें होती थीं जिन्होंने मनुष्यों की क़ानूनी स्वतंत्रता को सीमित कर दिया और यहां तक कि उनसे स्वतंत्रता के मूल अधिकार को छीन लिया। ईरान का अंतिम तानाशाह भी इसी प्रकार था और उसने अपने अत्याचारी वर्चस्व को जारी रखने के लिए लोगों पर अत् ...

क़ुम की जामा मस्जिद

क़ुम की जामा मस्जिद
ईरान के शहरों में क़ुम शहर को विशेष महत्व हासिल है और ईरान में ऐसे शहर कम हैं जिनमें क़ुम के जितना धार्मिक व प्रभावशाली आकर्षण हों क्योंकि इस शहर में जहाँ एक ओर पैग़म्बरे इस्लाम सल्लल लाहो अलैहि व आलेही व सल्लम की पवित्र परिजन के वंश से परपौत्री हज़रत मासूमा सलामुल्लाह अलैहा का रौज़ा है जो दूसरी ओर पूरे विश्व में इस्लामी संस्कृत ...

नौ मोहर्रम शिम्र बिन ज़िलजौशन का कर्बला पहुंचना

नौ मोहर्रम शिम्र बिन ज़िलजौशन का कर्बला पहुंचना
नौ मोहर्रम शिम्र बिन ज़िलजौशन का कर्बला पहुंचना सैय्यद ताजदार हुसैन ज़ैदी नौ मोहर्रम ने इबने ज़ियाद की तरफ़ से शिम्र के पास एक पत्र पहुँचा पत्र मिलते ही शिम्र नुख़ैला (कूफ़े की फ़ौजी छावनी) से वह बहुत तेज़ी के साथ बाहर निकला और और गुरुवार यानी नौ मोहर्रम को ज़ोहर की नमाज़ के समय से पहले वह कर्बला पहुंच गया और उसने इबने ज़ियाद का प ...

आठवीं मोहर्रम इमाम हुसैन (अ) की उमरे साद से मुलाक़ात

आठवीं मोहर्रम इमाम हुसैन (अ) की उमरे साद से मुलाक़ात
सैय्यद ताजदार हुसैन ज़ैदी जैसे जैसे हुसैनी क़ाफ़िला आशूरा के क़रीब पहुँचता जा रहा है वैसे वैसे हुसैन (अ) और आसहाबे हुसैन (अ) की प्सास बढ़ती जा रही है, बच्चों की प्यास बढ़ती जा रही है, सक़ीना अपने सूखे हुए कूज़े को सीने से लगाए फ़ुरात की तरफ़ देख रहीं है, अली असग़र के होंट सूख रहे हैं, बच्चे प्यास के अधिकता से कभी ख़ैमे के अंदर जाते हैं त ...

मुबाहेला ईसाईयत पर इस्लाम की जीत का दिन

मुबाहेला ईसाईयत पर इस्लाम की जीत का दिन
मुबाहेला ईसाईयत पर इस्लाम की जीत का दिन नजरान क्षेत्र के ईसाईयों के धार्मिक नेता एक चटान के ऊपर जाते हैं। बुढ़ापे के कारण उनके जबड़े और सफ़ेद दाढ़ी के बालों में कंपन है। वह कांपती हुई आवाज़ में कहते हैं कि मेरे विचार में मुबाहिला करना उचित नहीं होगा। यह पांच तेजस्वी चेहरे जिन्हें मैं देख रहा हूं यदि दुआ कर देंगे तो धरती में धंसे प ...

गांधी जयंती

गांधी जयंती
2 अक्तुबर सन 1187 ईसवी को इस्लामी सेना के सरदार सलाहुददीन अय्यूबी ने सलीबी युद्ध के दौरान बैतुल मुक़ददस को स्वतंत्र कराया। सलीबी युद्ध का पहला चरण वर्ष 1095 ईसवी से आरंभ हुआ। और चार वर्ष बाद सलीबी सैनिकों के बैतुल मुक़द्दस पर आक्रमण और नियंत्रण के बाद समाप्त हुआ। इस युद्ध के दूसरे चरण मे सलाहुद्दीन अययूबी ने सीरिया लेबनान और मिस्र पर अध ...

सऊदी अरब खेल रहा है आग से

सऊदी अरब खेल रहा है आग से
  आले सऊद हुकूमत की ओर से सीरिया में बशार असद हुकूमत के विरुद्ध सक्रिय अलकायदा से जुड़े संगठनों का समर्थन, उनका वित्तीय और सैन्य समर्थन तथा उनके पक्ष में प्रचार अभियान ऐसी वास्तविक्ता है कि जिसका इंकार नहीं किया जा सकता है और मौजूदा समय में इंटरनेशनल एक्सपर्ट उस पर पूरी तरह से नज़र रखे हुये हैं। इंटरनेशनल मामलों में सक्रिय बहुत स ...

वहाबियों का इतिहास और सच्चाई

वहाबियों का इतिहास और सच्चाई
वहाबियत की आधारशिला रखने वाले और उसके संस्थापक इब्ने तैमिया ने अपने पूरे जीवन में बहुत सी किताबें लिखीं और इन पुस्तकों में उपने विचारों को व्यक्त किया है। उन्होंने ऐसे अनेक फ़त्वे दिए जो उनसे पहले के किसी भी मुसलमान धर्मगुरु ने नहीं दिए विशेष रूप से ईश्वर के बारे में। वहाबियों का मानना है कि ईश्वर वैसा ही है जैसा कि क़ुरआन की कुछ आ ...

हमसे संपर्क करें | RSS | साइट का नक्शा

इस वेबसाइट के सभी अधिकार इस्लाम14 के पास सुरक्षित हैं, वेबसाइट का उल्लेख करके सामग्री उपयोग किया जा सकता है। .